होटल कमलाश्री के बारे में भ्रामक जानकारी देने वालों पर कायमी सोशल मीडिया पर कोरोना पीडि़त मरीज के बारे में फैलाई थी अफवाह वॉट्सएप पर ही पुलिस विभाग ने प्रकरण कायम किया

नगर संवाददाता, हरदा। कोरोना वायरस संक्रमण का एक मरीज लॉज में ठहरने की अफवाह व्हाट्सएप पर फैलाने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध पुलिस विभाग द्वारा अपराध कायम कर कार्यवाही की जाएगी। इस संबंध में हरदा पुलिस थाने में अपराध क्रमांक 132/2020 धारा 188 भादवि के तहत अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला पंजीबद्ध किया गया है। पुलिस द्वारा सायबर सेल के माध्यम से व्हाट्सअप गुु्रप पर भ्रांति फैलाने वालों का पता लगाया जा रहा है। इस मामले की विवेचना उपनिरीक्षक उमेदसिंह राजपूत द्वारा की जा रही है।
एंबुलैंस में मरीज का वीडियो वायरल किया –
प्राप्त जानकारी के अनुसार 22 मार्च को नगर में स्थित कमलाश्री होटल में एक अज्ञात मरीज संदिग्ध अवस्था में है। ऐसी जानकारी पुलिस को मिलने पर तत्काल टीम ने मौके पर पहुंचकर स्थिति की जानकारी ली। आरआई मूरतसिंह चौहान ने होटल पहुंचकर अज्ञात मरीज को एम्बुलेन्स 108 से जिला चिकित्सालय हरदा भेजा गया। जिला चिकित्सालय हरदा में उक्त व्यक्ति का इलाज हुआ। अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि उक्त व्यक्ति कोरोना वायरस से पीडि़त है। उसके पहले ही किसी अज्ञात व्यक्ति ने मरीज का एम्बुलेन्स में बैठते समय वीडियो बनाकर इसे व्हाट्सएप ग्रुप पर डालकर लिखा कि होटल में ठहरे यात्री को कोरोना वायरस से पीडि़त पाया गया है। इस प्रकार हरदा में कोरोना वायरस का पहला केस बताकर ग्रुप में शेयर कर वायरल कर अफवाह फैलाई गई। इस तरह सोशल मीडिया पर लोगों को भ्रामक जानकारी देने का प्र्रयास किया गया।
अफवाह फैलाने पर कार्यवाही –
जानकारी के अनुसार वीडियो बनाने वाले तथा ग्रुप में शेयर करने वाले अज्ञात व्यक्तियों द्वारा झूठी अफवाह फैलाकर आम लोगों को भ्रमित किया है। पुलिस द्वारा पूर्व में जारी किए गए आदेशों का अज्ञात व्यक्तियों ने उल्लंघन किया है। इसलिए विभाग द्वाराअपराध पंजीबद्ध कर कार्यवाही की जा रही है।
इनका कहना है-
जिले के नागरिक सोशल मीडिया पर प्रसारित होने वाली अफवाहों से लोग बचें। इस प्रकार की अफवाहें फैलाने वाले लोगों के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाएगी।
मनीष कुमार अग्रवाल
पुलिस अधीक्षक हरदा