कोरोना पर PM मोदी के संबोधन से लग रहीं ये अटकलें हेल्थ इमरजेंसी-लॉकडाउन या कुछ और?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्र को आज रात संबोधित करेंगे.

 

  • भारत में कोरोना वायरस के मामले बढ़े

  • आज राष्ट्र को संबोधित करेंगे पीएम मोदी

  • कोरोना से निपटने पर कर सकते हैं ऐलान

दैनिक अनोखा तीर | भारत में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार तेजी हो रही है. अब तक इस वायरस की वजह से 3 मौत हो गई हैं. आज इसी मसले पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्र को संबोधित करेंगे. कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते हुए मामलों के बीच आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्र को संबोधित करेंगे. भारत में अबतक कोरोना वायरस के कुल 170 पॉजिटिव मामले आ चुके हैं और तीन लोगों की मौत हो गई है. साथ ही लोगों में डर का माहौल बना हुआ है, हर तरफ हलचल है. ऐसे में प्रधानमंत्री आज अपने संबोधन में क्या कहते हैं, हर किसी की इसपर नज़र है. क्या प्रधानमंत्री कुछ बड़ा ऐलान करेंगे और लोगों से घरों में रहने की अपील करेंगे, इस तरह की अटकलें भी लगाई जा रही हैं

कोरोना पर मोदी ने की बड़ी बैठक, आज करेंगे संबोधन

बुधवार शाम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस (COVID-19) पर बड़ी बैठक की. इस बैठक में वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए, इस दौरान देश में अस्पतालों की व्यवस्था, सैंपल चेकिंग सेंटर, सभी यात्रियों को लेकर चर्चा हुई. इसी के बाद प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से बताया गया है कि गुरुवार रात 8 बजे प्रधानमंत्री देश को संबोधित करेंगे. बता दें कि इसके पहले प्रधानमंत्री ने नोटबंदी के वक्त, स्पेस मिसाइल लॉन्च होने के वक्त भी देश को संबोधित किया था.

नेशनल इमरजेंसी-लॉकडाउन या फिर कुछ और?

जब से देश में कोरोना वायरस के मामले सामने आने लगे हैं, एक्सपर्ट से लेकर सरकार तक यही सलाह दे रही है कि आप अपने घरों में रहें. लोगों से दूर रहें, भीड़ वाले इलाकों में ना जाएं. इसका असर कई राज्यों में दिखा भी है और स्कूल-कॉलेज-मॉल-सिनेमा हॉल बंद कर दिया गया है. हालांकि, ये सब अभी तक सीमित दर्जे पर हुआ है, ऐसे में क्या प्रधानमंत्री अपने संबोधन में लोगों से लॉकडाउन की अपील कर सकते हैं , अगर प्रधानमंत्री खुद लॉकडाउन का ऐलान करते हैं और लोगों से सावधान रहने की अपील करते हैं, तो उनकी बात एक बड़े तबके तक पहुंचेगी. और लोग इस कोरोना वायरस के खतरे को लेकर गंभीर हो सकेंगे. इसके अलावा इस महामारी को देखते हुए नेशनल इमरजेंसी या हेल्थ इमरजेंसी जैसी स्थिति का भी उपयोग किया जा सकता है.